भारत – आकार और स्थिति एनसीईआरटी कक्षा 9 भूगोल 

भारत - आकार और स्थिति एनसीईआरटी कक्षा 9

Written By Avinash Sharan

1st June 2021

कक्षा 9 भूगोल भारत-आकार और स्थिति एक छोटा सा किन्तु बहुत ही महत्वपूर्ण पाठ है। इस पाठ में आप पढ़ेंगे भारत कहाँ पर स्थित है, उसका क्षेत्रफल कितना है तथा भारत के पड़ोस में कौन कौन से देश स्थित हैं। इसके अलावा भारत कितने डिग्री अक्षांश और देशांतर रेखाओं पे स्थित है। भारत की भौगोलिक स्थिति किस प्रकार इसे मदद करती है। भारत – आकार और स्थिति से किस प्रकार के प्रश्न परीक्षाओं में पूछे जाते हैं।

भारत – आकार और स्थिति एनसीईआरटी कक्षा 9 भूगोल नोट्स एवं प्रश्नोत्तर सहित

परिचय

नक्शा का उत्तरी भाग ऊपर और दक्षिणी भाग हमेशा नीचे की और होता है।
अगर भारत के नक़्शे को देखा जाए तो भारत के उत्तर में जम्मू कश्मीर और सबसे दक्षिण में तमिलनाडु राज्य दिखाई देगा।
इसी प्रकार नक़्शे के दायीं और पूरब और बायीं और पश्चिम दिशा होती है।
इस हिसाब से भारत के नक़्शे पर सबसे पूरब में अरुणाचल प्रदेश और सबसे पश्चिम में गुजरात स्थित है।
भारत के तीन और समुद्र है।
पूरब में बंगाल की खाड़ी, पश्चिम में अरब सागर और दक्षिण में  हिन्द महासागर।
लेकिन क्या ये तीनों समुद्र भारत के हैं ? नहीं।
भारत की सीमा (ज़मीन) से 21. 9 KM तक का ही समुद्र पर भारत का अधिकार है।
यह मानक अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों द्वारा किसी भी देश के SIZE के आधार पर DECIDE किया जाता है।
कुछ पुस्तकों में १२ समुद्री मील लिखा हुआ रहता है। (१ समुद्री मील होता है लगभग 1. 8 KM )  

अक्षांश एवं देशांतरीय विस्तार (भारत-आकार और स्थिति)

भारत के अक्षांशीय और देशांतरीय विस्तार दो तरह से देखा जाता है “अक्षांश और देशांतर रेखाएँ”
 एक है भारत का मुख्य भू खंड जिसमे अंडमान और निकोबार द्वीप समूह शामिल नहीं है।
इस हिसाब से भारत का विस्तार  8° 4′  से 37° 6′ उत्तरी अक्षांश एवं 68° 7 ‘ से 97° 25′ पूर्वी देशांतर तक है
अर्थात भारत लगभग ३० अक्षांश  (8° 4′  से 37° 6′) और ३० देशांतर (68° 7 ‘ से 97° 25′)  में फैला है। पूरे विश्व के 2.4 प्रतिशत ज़मीन पर भारत फैला है। 
भारत की कुल लम्बाई उतर से दक्षिण में 3214 km और पूरब से पश्चिम 2933 km है। 
अगर हम अंडमान निकोबार के अंतिम द्वीप के अंतिम छोर Indira Point से भारत का विस्तार देखें तो भारत 6°45 ‘ उत्तरी अक्षांश से शुरू हो जाता है। 

क्या आप जानते हैं (भारत-आकार और स्थिति)

भारत विश्व का सातवां सबसे बड़ा देश है। 
सिर्फ छह देश भारत से बड़े हैं जिनका नाम है रूस (Russia), कनाडा (Canada), संयुक्त राष्ट्र अमरीका (U.S.A), चीन (China),ब्राज़ील ( Brazil) and ऑस्ट्रेलिया (Australia).

कर्क रेखा  (TROPIC OF CANCER )

कर्क रेखा अर्थात  साढ़े तेईस  डिग्री अक्षांश भारत के बीचो-बीच  से गुजरती है।  
इसकी वजह से भारत का दक्षिणी भाग उष्णकटिबंधीय (अत्यधिक गर्म) और कर्क रेखा के ऊपर का भाग उपोष्ण कटिबंध (न ज़्यादा गर्म – न ज़्यादा ठंडा ) में स्थित है।
यह यहाँ की जलवायु, मिटटी तथा वनस्पति में भिन्नता के लिए उत्तरदायी है। 

भारतीय मानक समय या मानक याम्योत्तर रेखा (INDIAN STANDARD TIME) 

भारत 68° 7 ‘ से 97° 25′ पूर्वी देशांतर तक फैला है। देशांतरीय रेखाओं के मानों से स्पष्ट होता है कि इनमे 30 डिग्री का अंतर है।
जैसा कि हम जानते हैं कि किन्हीं भी दो देशान्तरों के बीच 4 मिनट का अंतर होता है।
इस प्रकार 30 देशांतर में 30 x 4 = 120 मिनट अर्थात 2 घंटे का अंतर हो जाता है।
इसे हम एक उदाहरण से समझते हैं।
अरुणाचल प्रदेश के पूरब में होने के कारण वहां सूर्योदय सबसे पहले सुबह 4:00 बजे हो जाता है जबकि उससे 30 डिग्री दूर गुजरात की घड़ियों में रात के २:०० बज रहे होते हैं।
मगर इस प्रकार अगर हरेक राज्य में अलग-अलग समय होगा तब तो बहुत मुश्किल हो जायेगी। 
इसलिए दोनों देशान्तरों के मध्य का देशांतर 82° 30′ पूर्वी देशांतर जो अलाहाबाद के नज़दीक मिर्ज़ापुर से गुजरता है, को भारत मानक समय मान लिया गया है।
इस देशांतर पर जो भी समय होगा, पूरे देश के लोग अपनी घडी को इसी के समय के अनुसार मिला लेते हैं जिससे की पूरे देश में एक ही समय हो।  
इस प्रकार देशांतर का उपयोग हम समय में अंतर ज्ञांत करने के लिए करते हैं How to calculate time using longitudes explained Step by step। 
 
समय निकालने की विधि के लिए पढ़ें  https://shapingminds.in/अक्षांश-और-देशांतर-रेखाए/

भारत का आकार 

भारत की विशेषता यही है कि यहाँ पहाड़, पठार, मैदान, रेगिस्तान एवं समुद्री तट सभी प्राकृतिक विशेषताएं मौजूद हैं।
विश्व का सबसे ऊंचा पहाड़- हिमालय, विश्व का सबसे उपजाऊ मैदान- गंगा का मैदान,
विश्व का सबसे पुराना और ठोस पठार- दक्कन का पठार, 7000 KM का समुद्री तट और राजस्थान में मरुस्थल सब भारत में है।
भारत के आकार ने इसे विशिष्ट  भौतिक विविधता प्रदान की है।
यही वजह है कि इसे उपमहाद्वीप की संज्ञा दी गयी है।
इसमें पाकिस्तान, नेपाल, भूटान और बांग्लादेश भी आते हैं।
दक्षिण में तीन ओर समुद्र होने की वजह से भारत दुनिया के किसी भी देश के साथ जलमार्ग से जुड़ा है। 

भारत एवं उसके पड़ोसी 

भारत की सीमा कुल 7 देशों को छूती है। 
ये देश हैं पश्चिम में पाकिस्तान और अफगानिस्तान, उत्तर में तिब्बत, चीन और नेपाल, पूरब में भूटान, बांग्लादेश और म्यान्मार।
इन देशों के साथ भारत स्थल और यायु मार्ग से जुड़ा है।
इसके अलावा श्री लंका और मालदीव दो द्वीपीय देश भी भारत के पड़ोसी देश हैं जो हिन्द महासागर में स्थित हैं।
भारत और श्री लंका के बीच मन्नार की खाड़ी है।
पाल्क जल संधि भारत को श्री लंका से अलग करता है।
इस प्रकार भारत अपने पडोसी देशों से स्थल, जल एवं वायुमार्ग से जुड़ा है।

एनसीईआरटी कक्षा 9 भूगोल (भारत-आकार और स्थिति)  प्रश्नोत्तर

१. निम्नलिखित प्रश्नों के एक शब्द में उत्तर दें :

क) कर्क रेखा किस राज्य से होकर नहीं गुजरती – उड़ीसा
ख) भारत का सबसे पूर्वी देशांतर कौन सा है –  97° 25पूर्वी देशांतर
 
ग) उत्तराखंड, उत्तर-प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल और सिक्किम की सीमाएं किस देश को छूती हैं – नेपाल 
 
घ) ग्रीष्मावकाश में यदि आप कावारत्ती जाना चाहते हैं तो आप किस केंद्र शाषित क्षेत्र में जाएंगे – लक्षद्वीप 
 
च ) मेरे मित्र एक ऐसे देश के निवासी हैं जिसकी सीमा भारत के साथ नहीं लगती है – तज़ाकिस्तान 

२. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर संक्षेप में दीजिये : (भारत-आकार और स्थिति)

क) अरब सागर तथा बंगाल की खाड़ी में स्थित द्वीप समूहों के नाम बताइये ? दक्षिण में कौन-कौन से द्वीपीय देश हमारे पड़ोसी हैं ?

उत्तर) अरब सागर में लक्षद्वीप।
बंगाल की खाड़ी में अंडमान और निकोबार द्वीप समूह।
भारत के दक्षिण में श्री लंका और मालदीव हमारे पडोसी हैं।

ख) उन देशों के नाम बताइये जो क्षेत्रफल में भारत से बड़े हैं ?

उत्तर) छह देश जो भारत से क्षेत्रफल में बड़े हैं  उनका नाम है –  रूस (Russia), कनाडा (Canada), संयुक्त राष्ट्र अमरीका (U.S.A), चीन (China),ब्राज़ील ( Brazil) and ऑस्ट्रेलिया (Australia).

ग) भारत में किन-किन राज्यों से कर्क रेखा गुजरती है, उनके नाम बताइये। 

उत्तर)  भारत में जिन राज्यों से कर्क रेखा गुजरती है उनके नाम हैं
गुजरात – राजस्थान,
मध्य-प्रदेश -छत्तीसगढ़,
झारखण्ड – पश्चिम बंगाल एवं
त्रिपुरा – मिजोरम

३. सूर्योदय अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी भाग में गुजरात के पश्चिमी भाग की अपेक्षा दो घंटे पहले क्यों होता है जबकि दोनों राज्यों में घडी एक ही समय दर्शाती है ?

स्पष्ट कीजिये।

उत्तर) सूर्योदय अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी भाग में गुजरात के पश्चिमी भाग की अपेक्षा दो घंटे पहले इसलिए होता है क्योंकि :
i ) अरुणाचल प्रदेश पूर्व में स्थित है और सूर्योदय पूर्व से होता है।
ii) भारत 68° 7 ‘ से 97° 25′ पूर्वी देशांतर तक फैला है। 
iii) देशांतरीय रेखाओं के मानों से स्पष्ट होता है कि इनमे 30 डिग्री का अंतर है। 
iv) जैसा कि हम जानते हैं कि किन्हीं भी दो देशान्तरों के बीच 4 मिनट का अंतर होता है। इस प्रकार 30 देशांतर में 30 x 4 = 120 मिनट अर्थात 2 घंटे का अंतर हो जाता है।
v) अरुणाचल प्रदेश के पूरब में होने के कारण वहां सूर्योदय सबसे पहले सुबह 4:00 बजे हो जाता है जबकि उससे 30 डिग्री दूर गुजरात की घड़ियों में रात के २:०० बज रहे होते हैं।
मगर दोनों राज्यों में घडी एक ही समय दर्शाती है क्योंकि 
अगर हरेक राज्य में अलग-अलग समय होगा तब तो बहुत मुश्किल हो जायेगी। 
इसलिए दोनों देशान्तरों के मध्य का देशांतर 82° 30′ पूर्वी देशांतर जो अलाहाबाद के नज़दीक मिर्ज़ापुर से गुजरता है, को भारत मानक समय मान लिया गया है।
इस देशांतर पर जो भी समय होगा, पूरे देश के लोग अपनी घडी को इसी के समय के अनुसार मिला लेते हैं जिससे की पूरे देश में एक ही समय होता है। 

४. हिन्द महासागर में भारत की केन्द्रिय स्थिति से इसे किस प्रकार लाभ प्राप्त हुआ है ?

उत्तर) भारत, हिंद महासागर में केन्द्रीय स्थिति रखता है।
यह एकमात्र देश है, जिसके नाम पर किसी महासागर का नाम पड़ा है।
भारत के राजनीतिक, सामाजिक,आर्थिक,व्यापारिक आदि अनेक हितों की पूर्ति हिंद महासागर से ही होती है।
हिंद महासागर में सबसे अधिक तटीय भाग भारत की ही है, जो कुल क्षेत्र का 12.5% है ।
हिन्द महासागर एशिया, यूरोप और अफ्रीका तीनों महाद्वीपों को जोड़ता है तथा इसका तेल व्यापार की दृष्टिकोण से विशेष महत्व है ।
भारत का लगभग 78% अंतर्राष्ट्रीय व्यापार हिंद महासागर से ही होता है ।
भारत के संसाधनों की भी एक बड़ी मात्रा इसी महासागर से प्राप्त होता है ।

Related Posts

0 Comments

Submit a Comment

Your email address will not be published.