सात नयी चीज़ें जो दसवीं बोर्ड परीक्षा के बाद कर सकते हैं

Written By Avinash Sharan

22nd March 2020

दसवीं बोर्ड परीक्षा के बाद क्या करें ?

(Seven cool things to do after 10th board exam)

WHAT TO DO NOW ?

               WHAT TO DO NOW ?

ऐसी कौन सी सात नयी चीज़ें हैं जो हम दसवीं बोर्ड परीक्षा के बाद के खाली समय में कर सकते हैं।

हर बच्चे के मन में ये प्रश्न आता है कि दसवीं बोर्ड परीक्षा के बाद क्या करें ?

जबतक परीक्षा चलती रहती है तो इनके मन में बहुत कुछ करने का  विचार आता है।

जैसे ही परीक्षा समाप्त हो जाती है ये दो से तीन दिनों में ही बोर होने लगते हैं ?

कई बच्चे ये सोचने लगते हैं किअब क्या करें। भरपूर खेलने, टी. वी देखने और मस्ती करने के बाद ये २-३ दिनों में ही ऊब जाते हैं।

उन्हें ये समझ नहीं आता कि इस खाली समय का उपयोग वे किस प्रकार करें?

ऐसी सात नयी चीज़ें हैं जो हम बोर्ड परीक्षा के बाद कर सकते हैं।  इसकी जानकारी के अभाव में अक्सर बच्चे समय का सही उपयोग नहीं कर पाते।

हो सकता है कि ये लेख आपकी कुछ मदद कर सके।  नीचे दी गयी है वो सात नयी चीज़ें जो हम बोर्ड परीक्षा के बाद कर सकते हैं।

1. दस घंटों की नींद लें ( TAKE SOUND SLEEP OF 10 HOURS) :

DO NOT DISTURB

              DO NOT DISTURB

बोर्ड परीक्षा की तैयारी में अक्सर बच्चे  शारीरिक और मानसिक रूप से थक जाते हैं।

नींद भी पूरी नहीं हो पाती है।  परीक्षा के बाद अपने शरीर और दिमाग को शांत और स्थिर रखने का मौका मिलता है।

इस मौके का भरपूर लाभ उठाएं और कम से कम १० घंटे की नींद अवश्य लें।

अपनी पसंद की चीज़ें खाएं और खूब खेलें। मगर शरीर और मष्तिष्क को आराम देना भी आवश्यक है।

इसलिए भरपूर नींद लें।  सोने को समय की बर्बादी ना समझें। 

 

२. अपना  शौक पूरा  करें (PURSUE YOUR HOBBY) :

MY HOBBY

                         MY HOBBY

परीक्षा की तैयारी के दौरान हम अक्सर अपने शौक को पूरा नहीं कर पाते।

बच्चों में कई तरह के शौक हो सकते हैं जैसे संगीत, नृत्य, चित्रकला , कहानियाँ पढ़ना-लिखना, कंप्यूटर चलाना, खाना-बनाना, फोटोग्राफी, गार्डनिंग इत्यादि।

परीक्षा के दबाव के कारण ये इच्छाएं हमें दबानी पड़ती है।

आजकल के बच्चे मोबाइल और कंप्यूटर के अच्छे जानकार होते हैं।

वे चाहें तो यू ट्यूब वीडिओ या फिर वीडियो एडिटिंग, एनीमेशन, इत्यादि चीज़ें घर बैठे सीख सकते हैं।

परीक्षा के उपरान्त आप अपनी इन दबी हुई इच्छाओं को पूरा कर सकते हैं। https://shapingminds.in/do-you-know-that-you-are-unique/आप हॉबी क्लासेज भी ज्वाइन कर सकते हैं।

हो सकता है कि आपका शौक ही आगे चलकर आपका व्यवसाय (PROFESSION) बन जाए।

 

३.  दोस्तों के साथ वक़्त बितायें  (SPENDING TIME WITH YOUR CLOSE FRIENDS) ;

FUN TIME

              AFTER EXAM FUN TIME

दसवीं कक्षा के विद्यार्थी बच्चों के बीच में बड़े और बड़ों के बीच में बच्चे कहलाते हैं।

इस वजह से इनसे बात करनेवाला कोई नहीं होता।

कई बार इन्हें अकेलेपन का सामना भी करना पड़ता है।

ऐसे में अपने दोस्तों को घर बुलाएं और उनसे अपनी मन की बातें खुल कर शेयर करें।

दसवीं के बाद आप क्या करना चाहते हैं, इस बारे में भी अपने दोस्तों से सलाह लें। 

 

४. परिवार के साथ आस-पास घूमने जाएं (VISITING THE LOCAL UNEXPLORED PLACES) :

OUTING WITH FAMILY

            OUTING WITH FAMILY

अपने ही शहर के आस-पास ऐसी कई जगह होती है जहां हम कई दिनों से जाने की सोचते तो हैं पर कभी जा नहीं पाते।

बोर्ड की परीक्षा के बाद आपको ये मौका मिलता है कि आप अपने परिवार या मित्रजनों के साथ आसपास घूमने जाएँ।

हो सकता है किआपकी यात्रा आजीवन यादगार बन आये।

अगर शहर में किसी बीमारी के फैलने का खतरा हो तो सावधानी बरतें या कुछ दिनों के लिए प्रोग्राम रद्द कर दें। 

५.  खुद को बेहतर बनाएं (ADD VALUE TO YOURSELF):

BEST OUT OF WASTE

               BEST OUT OF WASTE

परीक्षा के बाद हमें मौका मिलता है कि हम कुछ नया सीखने का प्रयास करें।

इससे आप अपने अंदर के गुणों को बढ़ा सकते हैं।

जैसे कंप्यूटर चलाना, कोई विदेशी भाषा, खाना-बनाना, फोटोग्राफी इत्यादि कई चीज़ें सीख सकते हैं।

अंग्रेजी कमज़ोर हो तो रोज़ नए-नए ५-१० शब्द सीख सकते हैं, https://shapingminds.in/अपने-अंदर-छुपी-प्रतिभा-को/ कपडे में बटन लगाना या फिर

घर में बेकार पड़ी वस्तुओं से कोई नयी उपयोगी चीज़ बनाना इत्यादि सीखी जा सकती हैं।

इस प्रकार बच्चे अपनेआप को क्रिएटिव बना सकते हैं। 

६.  किसी करियर काउंसलर से मिलें (MEETING WITH A CAREER COUNSELOR) :

SEEKING CAREER GUIDANCE

   SEEKING CAREER GUIDANCE

दसवीं  कक्षा के बाद बच्चों के सामने चार नए विकल्प होते हैं।

साइंस, बायो-साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स।

अगर आप विषय के चुनाव को लेकर असमंजस में हैं और सही निर्णय नहीं ले पा रहे हैं तो किसी करियर काउंसेलर की मदद अवश्य लें।

आपकी रूचि और और आपकी पर्सनालिटी को ध्यान में रखते हुए वे आपको उचित सलाह देंगे जो आगे चलकर आपके लिए मददगार साबित होगी।

इस मोड़ पर एक गलत फैसला आपको परेशानी में डाल सकता है।

७. पुस्तकों से जुड़े रहे ( BE IN TOUCH WITH BOOKS) :

READING A NEW SUBJECT

   READING A NEW SUBJECT

दसवीं की परीक्षा के बाद अक्सर बच्चे ऐसा बर्ताव करते हैं जैसे उनकी पढाई समाप्त हो गयी हो।

बहुत ज़रूरी है पुस्तकों से जुड़े रहना। आप जो भी विषय लेने की सोच रहे हैं,

उससे सम्बंधित एक -दो पुस्तकें किसी से लेकर, उसे पढ़ने और समझने का प्रयास करें।

दसवीं का परिणाम आने में बहुत समय लग जाता है और https://shapingminds.in/तमसो-माँ-ज्योतिर्गमय/

किसी  भी समझदार  विद्यार्थी को परिणाम के इंतज़ार में बैठे नहीं रहना चाहिए।

समय का सदुपयोग करें क्योंकि समय मूल्यवान (PRECIOUS) है। 

ALL THE BEST.

YOU MAY LIKE TO READ OTHER POPULAR ARTICLES:

  1. MADAM KO APPLE KI SPELLING NAHIN AATI.
  2. GANESHJI AUR AADHUNIK COMPUTER

Related Posts

भारत के राष्ट्रीय चिन्ह : जो प्रत्येक सामाजिक विज्ञान के शिक्षक को पढ़ाना चाहिए

भारत के राष्ट्रीय चिन्ह : जो प्रत्येक सामाजिक विज्ञान के शिक्षक को पढ़ाना चाहिए

भारत के राष्ट्रीय चिन्ह जो प्रत्येक भारतीय को जानना चाहिए किसी भी भारतीय को भारत के राष्ट्रीय चिन्ह अवश्य पता होना...

Geographical Information Science

Geographical Information Science

Geographical Information Science and Systems: Today and Tomorrow GIS or Geographical Information Science today has...

0 Comments

Submit a Comment

Your email address will not be published.